त्वचा के लिए नियासीनेमाईड

त्वचा के लिए नियासीनेमाईड की आवश्यकता।।why and how to use niacinamide for skin-hindi

त्वचा के लिए नियासीनेमाईड

नियासीनेमाईड का दूसरा नाम विटामिन बी3 और निकोटिनेममाइएड है।(niyacinemide/vitamin b3/nicotinamide) ये पानी में घुलनशील यानी कि वॉटर सॉल्युबल विटामिन है।क्या आप जानना चाहेंगे कि हमारे शरीर के स्वास्थ्य के साथ साथ ओपन पोर्स-एक्ने को कम करने और त्वचा को ब्राइट और इवन टोन करने के लिए क्यों जरूरी है नियासीनेमाईड?

तो आइए जानते है ये त्वचा में कैसे काम करता है और बेहतरीन त्वचा के लिए इसे रोज़मर्रा की स्किन केअर रूटीन मैं इसे क्यों उपयोग में लाना चाहिए?

नियासिन यानीकी विटामिन बी3 या निकोटिनेममाइएड हमे मशरूमस,बीट,हरी सब्जियों, अंडे,चिकन,फिश,जानवरों के लिवर जैसे फ़ूड या सप्पलीमेंट से प्राप्त होता है।

त्वचा के लिए फ़ायदेमंद है नियासीनेमाईड:

स्किन केअर इंडस्ट्री में नियासीनेमाईड के नामसे सीरम,क्रीम,शीट मास्क के रूप में ये मिलता है।

स्किन केअर मैं फ़ूड सप्पलीमेंट के साथ साथ टॉपिकल (त्वचा लगाने वाले) नियासीनेमाईड प्रोडक्टस ज्यादा फायदेमंद है क्योंकि,त्वचा के ओवरआल हेल्थ की बात करें तो ऊपर बताए गए फ़ूड सप्पलीमेंट से हम विटामिन बी3 और नियासिन प्राप्त करके अंदरूनी तंदुरुस्ती पा सकते है,

मगर ये हमेशा जरूरी नहीं की हम जो खाते है,वो हमारी त्वचा कि सारी जरूरत पूरी करें,इसलिए सीरम के स्वरुप में सीधा नियासीनेमाईड लगाएं तो इसका पूरा और सीधा फायदा हमारी त्वचा को मिलता है

इसे लगाने से त्वचा की ओइलिनेस कम होती है,एक्ने पिम्पल्स कम होते है,फाइन लाइन्स,पिम्पल्स,पिगमेंटेशन,एजिंग इत्यादि कई समस्याओं को कम करने में ये काफी कारगर साबित हुआ है,दूसरे शब्दों में कहें तो ये एक वंडर इंग्रेडिएंट् है त्वचा के लिए।

त्वचा के लिए नियासीनेमाईड कैसे काम करता है?

त्वचा की ऊपरी परत ऑयल,प्रोटीन,लिपीड्स और सेरेमाइएड्स की बनी होती है।

नियासीनेमाईड टोनर/सीरम/क्रीम/ त्वचा में काफी सरलता से उत्तर जाता है,और त्वचा एसिड लेवल को बैलेंस करके त्वचा के रक्षक कवच (skin berrier)को मजबूत बनाता है।बैक्टरिया,वायरस,और वातावरण के प्रदूषण से त्वचा को बचाता है।

जिससे बिना किसी इर्रिटेशन के आप हेल्थी ग्लोइंग त्वचा पा सकते हो।

त्वचा के लिए नियासीनेमाईड

नियासीनेमाईड लगाने के फायदे

1)नॉन इर्रिटेटिंग है :-

ये एक सबसे स्थायी(stable) विटामिन है,ये ऑक्सीडाइज़ नही होता। इसका ph लेवल 7 है, इस लिए ये नॉन एसिडिक और नॉन इर्रिटेटिंग है,ये स्किन केअर प्रोडक्ट मैं सबसे कम( इर्रिटेटिंग )उत्तेजित करने वाला प्रोडक्ट है। ये हर तरह की त्वचा ,ड्राई स्किन,सेंसिटिव स्किन,और ऑयली स्किन के लिए के लिए सूटेबल है।

2)सूटेबल फ़ॉर ऑल स्किन टाइप

क्योंकि न सिर्फ ड्राई स्किन में वाटर लोस्स रोकता है, दूसरी ओर ऑइली स्किन में सेबेशियस ग्लैंड के आयल ग्लैंड से आयल रेगुलेट करके ज्यादा आयल सेक्रेशन को रोकता है,इसलिए ये ऑयली औऱ ड्राई हर तरह की त्वचा के लिए सूटेबल है।

3)पिगमेंटेशन को रोकता है:-

न्यासिनेमाइएड मेलेनिन उत्पन्न करनेवाले एन्ज़ाइम को रोकता है और पिगमेंटेशन को कंट्रोल करता है।सनबर्न,ऐज स्पॉट,एकने मार्कस पिगमेंनटेशन को कम करता है। केराटीन के उत्पादन को बढ़ा के त्वचा की ऊपरी मोटी पलम्प हेल्थी बनाता है। ये डर्मेटोलॉजिस्ट के द्वारा पिगमेंटेशन के लिए प्रिस्क्राइब किये हुए हाईड्रॉक्विनाइन जो कि इर्रिटेटिंग और साइड इफ़ेक्ट दे सकता है ,पर हाईड्रॉक्विनाइन नियासिनेमाइएड क्रीम जितना ही पिगमेंटेशन के लिए असरकारी नॉन इर्रिटेटिंग और बिना साइडइफ़ेक्ट काम करता है।

4)एजिंग प्रोसेस को कम करता है:

-त्वचा की नीचे एपिडर्मिस लेयर से वाटर लोस्स रोकता है(trans epidermal water loss),जिससे त्वचा की नमी को बरकरार रखते है, जिससे त्वचा की इलास्टिसिटी बढ़ती है। सेरेमाएड्स के प्रोडक्शन को बढ़ाता है जिससे एजिंग प्रोसेस स्लो होती है।

5)रिंकल्स फाइन लाइन्स कम करता है:-

चूंकि त्वचा के कोशों मैं हाइड्रेशन लेवल और मॉइस्चराझेशन बढाता है जिससे त्वचा में लचीलापन आता है, प्लम्पनेस बढ़ती है, फाइन लाइन्स और रिंकल्स को अपने आप ही कम होने लगती है।

6)ओपन पोर्स को काम करता है:-

आगे बताया कि ये सीबम कंट्रोल करता है,सीबम सेक्रेशन जितना कम उतनी कम ऑयली त्वचा और ओपन पोर्स कम। और लार्ज ओपन पोर्स मैैं जमी गंदगी को साफ करता है ऑयल ग्लैंड से आयल सेक्रेशन को बैलेंस करता है इस तरह पोर्स को लार्ज होने से रोकता है,और उसे सिकुड़ ने मैं मदद करता है।

7)वातावरण के प्रदूषण से त्वचा की रक्षा करना:-

न्यासिनेमाइएड वातावरण के प्रदूषण जैसे कड़ी धूप,धुंए,और भी ऑक्सीडेसीव तत्वो से होने वाले डैमेज के सामने बेर्रीयर सेल्स प्रोड्यूस करता है और त्वचा का रक्षण करता है।

8) एक्ने को कम करता है:-

नियासिनेमाइएड में एन्टी माइक्रोबीएल,और एन्टी इन्फ्लामेटोरी प्रोपर्टीज है और,आयल कंट्रोल करता है, जिससे एक्ने को कंट्रोल करने मेंकाफी मदद मिलती है ये त्वचा के नेचुरल डिफेंस सिस्टम को मजबूत बनाता है।

कितनी तीव्रता मैं उपयोग करना बेहतर है:-

चूंकि ये इसकी खासकर कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं है,और जैसे आगे बताया कि ये सीरम,टोनर,शीट मास्क मैं कम या ज्यादा तीव्रता मैं उपलब्ध है।

और अगर इसे ज्यादा तीव्रता यानी कि हाई परसेंटेज में भी यूज़ कर भी लिया तो भी इससे सेंसिटिव स्किन वाले भी इससे कोई इर्रिटेशन नही होती।

तो ज्यादातर हर स्किन टाइप के लिए टोलेराबल है और स्टेबल होने से ज्यादातर सभी इंग्रेडिएंट्स के साथ जाता है,

Note-नियासिनेमाइएड ओइली त्वचा वालों के लिए 10% और नार्मल तो ड्राई स्किन वालों के लिए 5% ज्यादा उपयुक्त  है।

हालांकि ये 2%,5%,और 10% कि तीव्रता मैं आता है,और शायद हम नही जानते कि ,ये काफी सारे मोइस्चराइजर,फेस मास्क,मैं मौजूद होता है क्योंकि ये त्वचा में ब्राइटनिंग इफ़ेक्ट देता है।

और अगर कभी इर्रिटेशन हुआ तो भी ये प्रोडक्टस मैं मौजूद गंध,और प्रिज़र्वेटिव की वजह से हो सकता है।

लगाने का तरीका:-

मोर्निंग स्किन केअर :-

  • क्लीनसिंग, टोनिंग के बाद नियासिनेमाइएड सीरम लगाएं
  • और इसे त्वचा में थोड़ा सूखने के बाद मॉइस्चराईजर लगाए और
  • कुछ मिनट बाद सनस्क्रीन लगाएं।
  • आप मॉइस्चराइजर मैं एक दो बूंद नियासिनेमाइएड सीरम के मिक्स करके भी लगा सकते है।

नाईट स्किनकेयर:-

  • नाईट स्किन केअर रूटीन मैं सबसे पहले लो ph लेविल वाले यानीकी एक्सफोलिएंट्स जैसे AHA’S और BHA’S(for eg.लैक्टिक एसिड, मेंडेलिक एसिड, एक्ने है तो सैलिसिलिक एसिड और विटामिन c युक्त टोनर्स और सिरम्स) जिसका ph लेवल 5 से कम होता है ऐसे टोनर्स, और सिरम्स लगाऐं।
  • बाद में  नियासिनेमाइएड जिसका ph लेवल त्वचा के ph लेवल के समांतर जो 5.5 से 6 तक होता है उसे लगाए और
  • अंत में मॉइस्चराइजर लगाएं।

Few best Niacinemide serums

St.botanica b3 Niacinemide 10% serum

Minimalist 10% Niacinamide Face Serum for Acne Marks, Blemishes & Oil Balancing with Zinc 

Derma co 10% Niacinamide serum acne marks and acne prone skin

Share this post

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *