Retinoid,retino-A और retinol क्या है और ये हमारी त्वचा में क्या जादू करता है।

Retinoid,retino-A और retinol क्या है और ये हमारी त्वचा में क्या जादू करता है।

Retinoid,retino-A और retinol क्या है?

Retinoid विटामिन -A का एक डेरिवेटिव है।ये क़ुदरती रूप से गाजर,भोपला,और प्राणी जन्य पदार्थ से कुदरती रूप से मिलता है।-रेटिनॉयड एन्टी एजिंग और एन्टी एक्ने के लिए उपयोगी घटक है।और दूसरा बीटा केरोटीन, जो हमारी दृष्टि सुधारने के लिए आवश्यक विटामिन है।आज हम Retinoid,retino-A और retinol क्या है इसके बारे में डिटेल में जानते है और जानते है की ये हमारी त्वचा में क्या जादू करता है।

(रेटिनॉइड वो संघटक है,जो हमारा शरीर कुदरती रूप से तैयार करता है।ये हमारे इम्मयून सिस्टम और टिश्यू डैमेज को रिपेयर करता है।)

(Types of retinoids) :- ratinoic acid,retinol, tritinoin,tazarotene ,retinyle pelmitate,retinaldehyde etc.

Retin-A/retinoic acid/tretinoin, इन रेटिनॉइड्स में से ratinoic acid,जो कि विटामिन A का सबसे असरकारक रूप है और ये त्वचा को सकारात्मक रूप से प्रभावित करता है। ये त्वचा की गहराई में सीधा उतरता है और त्वचा को एक्सफोलिएट करता है मतलब ये हमारी त्वचा में सारा जादू करता है। सालों से डर्मेटोजिस्ट और स्किन केअर इंडस्ट्री द्वारा इसका उपयोग होता आ रहा है।
Retinoid,retino-A और retinol क्या है और ये हमारी त्वचा में क्या जादू करता है।
Types of retinoids
रेटिनोइक एसिड, रेटिनॉइड का मेडिकल ग्रेड है,जिसे रेटिना-A या ट्रिटिनॉइन भी कहा जाता है। Ratino -A ब्रांड नाम है,जिसमे एक्टिव इंग्रेडिएंट्स रेटिनॉइक एसिड यानी की ट्रिटिनोईन होता है।ये रेटिनोल से 100 गुना ज्यादा स्ट्रॉन्गेस्ट फॉर्म है। यह क्रीम और जेल फॉर्म में आता है। इनके लिए मेडिकल प्रिस्क्रिप्शन की आवश्यकता रहती है।
Retinoid,retino-A और retinol क्या है और ये हमारी त्वचा में क्या जादू करता है।
Retin-A/tretinoin creams
रेटिनॉल:- रेटिनॉल रेटिनो-A / ट्रिटिनॉइन / रेटिनॉइक एसिड का कॉस्मेटिक रूपांतरण है। हालांकि येे रेटिनॉयड फैमिली का ही घटक है,मगर येे कई प्रोसेस से गुजर के,रेटिनोईक एसिड मैं रूपांतरित होता है, तब ये कम तीव्रता वाला बनता है,जो ओवर द काउंटर केमिस्ट के यहाँ, ब्यूटी शॉप में रेटिनोल सीरम के रूप में मिलता है। इसके लिए कोई प्रिस्क्रिप्शन की आवाहयक्ता नही है। एक तरह से यह रेटिनॉयड का कॉस्मेटिक वर्ज़न है,और ये अपनी स्किन केअर रूटीन में रोज़ यूज़ कर सकते है। इसे रात को सोने के वक्त लगाया जाना चाहिए। और इसका रिजल्ट हमे इसे लगातार लंबे समय तक वापरने के बाद,मतलब लेट मिलता है। हालांकि रेटिनोईक एसिड क्रीम/रेटिनोल-A व रेटिनोल सीरम दो नो के कार्य व रिजल्ट एकजैसे ही है। रेटिनॉल कॉस्मेटिक वर्ज़न है,और ये अपनी स्किन केअर रूटीन में रोज़ यूज़ कर सकते है। इसे किसी भी ऐज ग्रुप के लोग डे टू डे स्किन केअर में यूज़ कर सकते है।
Retinoid,retino-A और retinol क्या है और ये हमारी त्वचा में क्या जादू करता है।
Retinol serums
रेटिन-A/ट्रिटिनॉइन/रेटिनॉल का हमारी त्वचा के में उपयोग और फायदे/त्वचा में कैसे काम करता है:- कुदरती रूप से हमारी त्वचा की ऊपरी परत(डर्मिस लेयर)30 दिन में निकलती है मगर ये क्रीम्स या सिरमस से ये प्रक्रिया तेजी से यानी कि 15 से 21दिन में होती है। 1)तो रेटिनॉइड क्रीम या सिरमस को स्किन केअर में शामिल करने से आपकी त्वचा की ऊपरी परत(डर्मिस लेयर ) जो कि थोड़ी कठोर होती है ,एक्सफोलिएट होती है। 2)त्वचा में नया सेल री-जनरेशन होने से, नई प्लम्प व ग्लोइंग, स्किन मिलती है, पलम्पअप त्वचा ज्यादा फूली फूली होने से ज्यादा तरो-ताजा,जवाँ,और कोमल दिखती है। पिगमेंटेशन धीरे धीरे कम होने लगता है। 3)इलास्टिन व कोलेजन बनने से इलास्टिसिटी बढ़ती है।त्वचा में झुर्रियां कम होने लगती है,त्वचा टाइट व फर्म होने लगती है। ये लगाने से एक्ने व पिम्पल्स से भी छुटकारा मिलता है। और पढ़े-हरदम जवाँ, रेडिएंट,और ग्लोइंग त्वचा के लिए हाइल्यूरॉनिक एसिड सीरम

ratina-A और Retinol किसे और कब लगाना चाहिए:-

  अगर आप लेट 20’s, में यानिकि 20 से 30-35की उम्र के बीच में हो,और आपकी त्वचा हेल्थी है तो आपको क़म तीव्रता वाले मतलब रेटिनोल सीरम का इस्तेमाल करना चाहिए क्योंकि ये उम्र में आपका कोलेजन जो कि त्वचा को मजबूत और मोटी रखने वाला प्रोटिन कुदरती रूप से मौजूद होता है। इस उम्र से रेटिनॉल के इस्तेमाल से त्वचा एक्ने फ्री, रिंकल फ्री,और ग्लोइंग बानी रहती है।त्वचा मेंटेन रहती है। अगर ये उम्र में ज्यादा एक्ने और पिम्पल्स है तो डर्मेटोजिस्ट की सलाह से स्ट्रोंगर फॉर्म वाला Retino -A का उपयोग कर सकते है। 30या 35 की उम्र के बाद आपकी त्वचा मैं इलास्टिन और कोलेजन कम होने लगता है त्वचा पतली ,और सुखि होने लगती है, ड्राईनेस से त्वचा में झुर्रियां, होना शुरू होने लगती है।तो इन वक्त डर्मेटोलॉजिस्ट की सलाह से रेटिनो-A यानिकि ट्रिटिनॉइक एसिड क्रीम शुरू करनी चाहीए। क्यूं की रेटीन-A स्ट्रोंग होता है,इसे डर्मेटोजिस्ट की निगरानी में कम तीव्रता वाले क्रीम से शुरू करके धीरे धीरे तीव्रता की मात्रा बढ़ा के अच्छा और फास्ट रिजल्ट पाया जा सकता है। डर्मेटोजिस्ट आपकी त्वचा के प्रकार के अनुसार जैसे ड्राई,सेंसिटिव,और ऑयली स्किन के मुताबित और उसपे पड़ी झुर्रियों के अनुसार कम या ज्यादा तीव्रता वाले रेटिनॉयड क्रीम प्रिस्क्राइब कर सकते है।(for eg RATINOL-A 0.025%,0.05%,0.075%.. etc) और डॉक्टर शुरुआत में पैच टेस्ट की सलाह भी देंगे,व इन्हें शुरु मैं एकदम कम मात्रा में हफ्ते में दो या तीनदिन ही लगाना होता है,बाद में धीरे धीरे रोज लगाने की सलाह देते है जिससे त्वचा को इसकी आदत हो जाए।

retino-A और retinol कब और कैसे लगाएं:-

*इस क्रीम को रात को ही क्लींजिंग के बाद त्वचा को एक दम सुखने दें, बाद ही लगाएँ। 1)यदि रेटिनोल सीरम लगा रहे हो तो दो से तीन बूंदे ड्रॉपर से चहेरे पे ले कर हल्के हाथों से लगाएं, और सूखने के बाद मॉइस्चराइजर लगाएं, 2)अगर Retina-A क्रीम लगा रहे हो तो मटर के दाने जितना ही लेके पूरे चहेरे पे डॉट-डॉट करके हल्के हाथों से फेला दें।,बाद में अच्छा सा मॉइस्चराइजर लगाएं । 3)दिन मैं सनस्क्रीन लगाना अत्यावश्यक है,क्योकि रेटिनोल सिरमस/क्रीम्स, रेटिनॉल-Aक्रीम(trtinoin cream) स्किन को एक्सफोलिएट करती है तो,नई त्वचा सनलाइट के प्रति ज्यादा संवेदनशील होती है,जिससे स्किन में जलन या पिगमेंटेशन हो सकता है। और पढ़े-मॉइस्चराइजर लगाने का सही तरीका

लगाने के पहले क्या सावधानीयाँ लें।

* इसे प्रेग्नेंट महिला बिलकूल न लगाएं। * इन क्रीम और लोशन्स के उपयोग के पहले पैच टेस्ट अवश्य करें। * सेंसिटिव स्किन वालों को इससे जलन,या खुजली या त्वचा लाल हो सकती है। * इसे ज्यादा मात्रा में कभी न लगायें।

Share this post

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *